तकनीकी विश्लेषण का आधार

संबंधित ETFs

संबंधित ETFs
एनएफओ की घोषणा करते हुए मिरे एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ श्री स्वरूप मोहंती ने कहा कि मिरे एसेट भारतीय निवेशकों के लिए वैश्विक निवेश उत्पादों को पेश करने में सबसे आगे रहा है. उन्होंने कहा कि भारत में ये थीम विकास के प्रारंभिक चरण में हैं, लेकिन विश्व स्तर पर ये फोकस में हैं. हमारा मानना संबंधित ETFs है कि इन फंडों के जरिए निवेशकों को वैश्विक थीम में निवेश का मौका मिलेगा.

संबंधित ETFs

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के संबंधित ETFs लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा संबंधित ETFs करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर संबंधित ETFs निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किए 2 NFO, निवेश के पहले जानें इनकी खासियत

मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किए 2 NFO, निवेश के पहले जानें इनकी खासियत

भारत में सबसे तेजी से बढ़ रहे फंड हाउस में शामिल मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने अपने दो नए फंड लॉन्च करने की घोषणा की है.

New Fund Offer: भारत में सबसे तेजी से बढ़ रहे फंड हाउस में शामिल मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने अपने दो नए फंड लॉन्च करने की घोषणा की है. इनमें पहला एनएफओ मिरे एसेट ग्लोबल इलेक्ट्रिक एंड ऑटोनॉमस व्हीकल्स ईटीएफ फंड ऑफ फंड है. वहीं, दूसरा एनएफओ मिरे एसेट ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ फंड ऑफ फंड है. ये दोनों फंड भारत के म्यूचुअल फंड उद्योग में लॉन्च होने वाले अपने तरह के पहले फंड हैं, जो भविष्य की टेक्नोलॉजी में शामिल कंपनियों पर आधारित हैं.

इन दोनों NFO में क्या है खास

मिरे एसेट ग्लोबल इलेक्ट्रिक एंड ऑटोनॉमस व्हीकल्स ईटीएफ फंड ऑफ फंड की बात करें तो यह एक ओपेन एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम है. यह स्कीम उन विदेशी इक्विटी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स में निवेश करती है जो इलेक्ट्रिक और आटोनॉमस यानी स्वायत्त वाहनों और उनसे संबंधित टेक्नोलॉजी, कंपोनेंट और सामग्रियों के विकास में शामिल कंपनियों पर आधारित हैं. इसके अलावा, मिरे एसेट ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ फंड ऑफ फंड भी एक ओपन-एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम है. यह ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ की इकाइयों में निवेश करती है.

Nykaa: क्‍या फाल्‍गुनी नायर का चल गया बोनस शेयर वाला दांव? लॉक इन खत्‍म लेकिन नहीं दिख रही भारी बिकवाली

16 अगस्त से 30 अगस्त तक खुले रहेंगे NFO

दोनों एनएफओ सब्सक्रिप्शन यानी निवेश के लिए 16 अगस्त, 2022 को खुलेंगे और 30 अगस्त, 2022 को बंद होंगे. दोनों फंड का प्रबंधन मिरे एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के हेड-ईटीएफ प्रोडक्ट्स, श्री सिद्धार्थ श्रीवास्तव द्वारा किया जाएगा.

इन फंड में कम से कम 5,000 रुपये का प्रारंभिक निवेश करना जरूरी होगा और उसके बाद 1 रुपये के मल्टीपल में निवेश किया जा सकता है.

NFO से जुड़ी डिटेल

  • विभिन्न देशों और इकोसिस्टम में इलेक्ट्रिक और ऑटोनॉमस वाहनों और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी वाली संबंधित ETFs कंपनियों में निवेश के साथ इन फंड में डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलियो का लाभ मिलेगा.
  • Indxx आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और बिग डाटा सूचकांक (AIQ इंडेक्स) (AI FoF के लिए बेंचमार्क सूचकांक) पोर्टफोलियो में 83 कंपनियां हैं, जो 20 उद्योगों में फैली हुई हैं. उनका कुल मार्केट कैप 13.2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर (13.2 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर) है.
  • एआईक्यू इंडेक्स ने पिछले 7 सालों में (31 जुलाई 2022 तक) 20.4 फीसदी रिटर्न दिया है.
  • इन फंड के जरिए निवेशकों के लिए वैश्विक बाजारों में निवेश करने का एक अनूठा अवसर माना जा सकता है.
  • AIQ इंडेक्स का मतलब Indxx आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और बिग डाटा सूचकांक है. स्थापना के बाद से एआईक्यू इंडेक्स का रिटर्न: 18.5% (आधार तिथि: 31 जनवरी 2014); 1 साल का रिटर्न: -20.7% है.

Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain

डेटा नहीं मिल सका। कृपया फिर से कोशिश करें।

Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain के बारे में आज मार्केट में क्या माहौल है?

Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain के बारे में आपको आज कैसा लग रहा है? परिणाम देखने के लिए वोट दें

सामान्य जानकारी

Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain कीमत से जुड़ा विवरण

इस बारे में और जानें :- Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain

काम के रिसोर्स

अगर आप क्रिप्टो की दुनिया में नए हैं, तो Bitcoin, Ethereum और अन्य क्रिप्टोकरेंसी खरीदना शुरू करने के बारे में जानने के लिए Crypto.com यूनिवर्सिटी और हमारे हेल्प सेंटर का इस्तेमाल करें।

अपने पसंद की फ़िएट करेंसी में Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain की मौजूदा कीमत लाइव देखने संबंधित ETFs के लिए, आप इस पेज के ऊपरी दाएँ कोने में मौजूद Crypto.com के कन्वर्टर फ़ीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Vanguard S&P 500 ETF Tokenized Stock Defichain का प्राइस पेज Crypto.com प्राइस इंडेक्सका हिस्सा है जो टॉप क्रिप्टोकरेंसी के लिए प्राइस हिस्ट्री, प्राइस टिकर, मार्केट कैप और लाइव चार्ट को फ़ीचर करता है।

मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किए 2 NFO, निवेश के पहले जानें इनकी खासियत

मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किए 2 NFO, निवेश के पहले जानें इनकी खासियत

भारत में सबसे तेजी से बढ़ रहे फंड हाउस में शामिल मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने अपने दो नए फंड लॉन्च करने की घोषणा की है.

New Fund Offer: भारत में सबसे तेजी से बढ़ रहे फंड हाउस में शामिल मिरे एसेट म्यूचुअल फंड ने अपने दो नए फंड लॉन्च करने की घोषणा की है. इनमें पहला एनएफओ मिरे एसेट ग्लोबल इलेक्ट्रिक एंड ऑटोनॉमस व्हीकल्स ईटीएफ फंड ऑफ फंड है. वहीं, दूसरा एनएफओ मिरे एसेट ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ फंड ऑफ फंड है. ये दोनों फंड भारत के म्यूचुअल फंड उद्योग में लॉन्च होने वाले अपने तरह के पहले फंड हैं, जो भविष्य की टेक्नोलॉजी में शामिल कंपनियों पर आधारित हैं.

इन दोनों NFO में क्या है खास

मिरे एसेट ग्लोबल इलेक्ट्रिक एंड ऑटोनॉमस व्हीकल्स ईटीएफ फंड ऑफ फंड की बात करें तो यह एक ओपेन एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम है. यह स्कीम संबंधित ETFs उन विदेशी इक्विटी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स में निवेश करती है जो इलेक्ट्रिक और आटोनॉमस यानी स्वायत्त वाहनों और उनसे संबंधित टेक्नोलॉजी, कंपोनेंट और सामग्रियों के विकास में शामिल कंपनियों पर आधारित हैं. इसके अलावा, मिरे एसेट ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ फंड ऑफ फंड संबंधित ETFs भी एक ओपन-एंडेड फंड ऑफ फंड स्कीम है. यह ग्लोबल एक्स आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी ईटीएफ की इकाइयों में निवेश करती है.

Nykaa: क्‍या फाल्‍गुनी नायर का चल गया बोनस शेयर वाला दांव? लॉक इन खत्‍म लेकिन नहीं दिख रही भारी बिकवाली

16 अगस्त से 30 अगस्त तक खुले रहेंगे NFO

दोनों एनएफओ सब्सक्रिप्शन यानी निवेश के लिए 16 अगस्त, 2022 को खुलेंगे और 30 अगस्त, 2022 को बंद होंगे. दोनों फंड का प्रबंधन मिरे एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के हेड-ईटीएफ प्रोडक्ट्स, श्री सिद्धार्थ श्रीवास्तव द्वारा किया जाएगा.

इन फंड में कम से कम 5,000 रुपये का प्रारंभिक निवेश करना जरूरी होगा और उसके बाद 1 रुपये के मल्टीपल में निवेश किया जा सकता है.

NFO से जुड़ी डिटेल

  • विभिन्न देशों और इकोसिस्टम में इलेक्ट्रिक और ऑटोनॉमस वाहनों और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड टेक्नोलॉजी वाली कंपनियों में निवेश के साथ इन फंड में डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलियो का लाभ मिलेगा.
  • Indxx आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और संबंधित ETFs बिग डाटा सूचकांक (AIQ इंडेक्स) (AI FoF के लिए बेंचमार्क सूचकांक) पोर्टफोलियो में 83 कंपनियां हैं, जो 20 उद्योगों में फैली हुई हैं. उनका कुल मार्केट कैप 13.2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर (13.2 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर) है.
  • एआईक्यू इंडेक्स ने पिछले 7 सालों में (31 जुलाई 2022 तक) 20.4 फीसदी रिटर्न दिया है.
  • इन फंड के जरिए निवेशकों के लिए वैश्विक बाजारों में निवेश करने का एक अनूठा अवसर माना जा सकता संबंधित ETFs है.
  • AIQ इंडेक्स का मतलब Indxx आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और बिग डाटा सूचकांक है. स्थापना के बाद से एआईक्यू इंडेक्स का रिटर्न: 18.5% (आधार तिथि: 31 जनवरी 2014); 1 साल का रिटर्न: -20.7% है.

सिल्वर ETF लाने के लिए सेबी ने बदले नियम, जानिए क्या है सिल्वर ETF

ट्रस्टीज को प्रति यूनिट एक वोट के आधार पर उपस्थित और मतदान करने वाले यूनिटधारकों के साधारण बहुमत से सहमति हासिल करनी होगी

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 12, 2021, 08:39 IST

नई दिल्ली. बाजार नियामक सेबी ने चांदी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (Silver ETF) की पेशकश के लिए नियमों में संशोधन किया है. इससे शेयर बाजारों के जरिये जिसों में निवेश के विकल्प बढ़ेंगे. इस संबंधित ETFs समय भारतीय म्यूचुअल फंडों (Mutual funds) को सोने पर केंद्रित ईटीएफ पेश करने की अनुमति है. भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) की तरफ से गत मंगलवार को जारी एक अधिसूचना के अनुसार चांदी ईटीएफ की शुरुआत के लिए नियमों में बदलाव किए गए हैं.

रेटिंग: 4.69
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 207
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *